नारी ब्लॉग को रचना ने ५ अप्रैल २००८ को बनाया था

हिन्दी ब्लोगिंग का पहला कम्युनिटी ब्लॉग जिस पर केवल महिला ब्लॉगर ब्लॉग पोस्ट करती हैं ।

यहाँ महिला की उपलब्धि भी हैं , महिला की कमजोरी भी और समाज के रुढ़िवादि संस्कारों का नारी पर असर कितना और क्यों ? हम वहीलिख रहे हैं जो हम को मिला हैं या बहुत ने भोगा हैं । कई बार प्रश्न किया जा रहा हैं कि अगर आप को अलग लाइन नहीं चाहिये तो अलग ब्लॉग क्यूँ ??इसका उत्तर हैं कि " नारी " ब्लॉग एक कम्युनिटी ब्लॉग हैं जिस की सदस्या नारी हैं जो ब्लॉग लिखती हैं । ये केवल एक सम्मिलित प्रयास हैं अपनी बात को समाज तक पहुचाने का

15th august 2011
नारी ब्लॉग हिंदी ब्लॉग जगत का पहला ब्लॉग था जहां महिला ब्लोगर ही लिखती थी
२००८-२०११ के दौरान ये ब्लॉग एक साझा मंच था महिला ब्लोगर का जो नारी सशक्तिकरण की पक्षधर थी और जो ये मानती थी की नारी अपने आप में पूर्ण हैं . इस मंच पर बहुत से महिला को मैने यानी रचना ने जोड़ा और बहुत सी इसको पढ़ कर खुद जुड़ी . इस पर जितना लिखा गया वो सब आज भी उतना ही सही हैं जितना जब लिखा गया .
१५ अगस्त २०११ से ये ब्लॉग साझा मंच नहीं रहा . पुरानी पोस्ट और कमेन्ट नहीं मिटाये गए हैं और ब्लॉग आर्कईव में पढ़े जा सकते हैं .
नारी उपलब्धियों की कहानिया बदस्तूर जारी हैं और नारी सशक्तिकरण की रहा पर असंख्य महिला "घुटन से अपनी आज़ादी खुद अर्जित कर रही हैं " इस ब्लॉग पर आयी कुछ पोस्ट / उनके अंश कई जगह कॉपी कर के अदल बदल कर लिख दिये गये हैं . बिना लिंक या आभार दिये क़ोई बात नहीं यही हमारी सोच का सही होना सिद्ध करता हैं

15th august 2012

१५ अगस्त २०१२ से ये ब्लॉग साझा मंच फिर हो गया हैं क़ोई भी महिला इस से जुड़ कर अपने विचार बाँट सकती हैं

"नारी" ब्लॉग

"नारी" ब्लॉग को ब्लॉग जगत की नारियों ने इसलिये शुरू किया ताकि वह नारियाँ जो सक्षम हैं नेट पर लिखने मे वह अपने शब्दों के रास्ते उन बातो पर भी लिखे जो समय समय पर उन्हे तकलीफ देती रहीं हैं । यहाँ कोई रेवोलुशन या आन्दोलन नहीं हो रहा हैं ... यहाँ बात हो रही हैं उन नारियों की जिन्होंने अपने सपनो को पूरा किया हैं किसी ना किसी तरह । कभी लड़ कर , कभी लिख कर , कभी शादी कर के , कभी तलाक ले कर । किसी का भी रास्ता आसन नहीं रहा हैं । उस रास्ते पर मिले अनुभवो को बांटने की कोशिश हैं "नारी " और उस रास्ते पर हुई समस्याओ के नए समाधान खोजने की कोशिश हैं " नारी " । अपनी स्वतंत्रता को जीने की कोशिश , अपनी सम्पूर्णता मे डूबने की कोशिश और अपनी सार्थकता को समझने की कोशिश ।

" नारी जिसने घुटन से अपनी आज़ादी ख़ुद अर्जित की "

हाँ आज ये संख्या बहुत नहीं हैं पर कम भी नहीं हैं । कुछ को मै जानती हूँ कुछ को आप । और आप ख़ुद भी किसी कि प्रेरणा हो सकती । कुछ ऐसा तों जरुर किया हैं आपने भी उसे बाटें । हर वह काम जो आप ने सम्पूर्णता से किया हो और करके अपनी जिन्दगी को जिया हो । जरुरी है जीना जिन्दगी को , काटना नही । और सम्पूर्णता से जीना , वो सम्पूर्णता जो केवल आप अपने आप को दे सकती हैं । जरुरी नहीं हैं की आप कमाती हो , जरुरी नहीं है की आप नियमित लिखती हो । केवल इतना जरुरी हैं की आप जो भी करती हो पूरी सच्चाई से करती हो , खुश हो कर करती हो । हर वो काम जो आप करती हैं आप का काम हैं बस जरुरी इतना हैं की समय पर आप अपने लिये भी समय निकालती हो और जिन्दगी को जीती हो ।
नारी ब्लॉग को रचना ने ५ अप्रैल २००८ को बनाया था

December 11, 2009

एयर टेल के उपभोगता सावधान रहे

एयर टेल के उपभोगता ध्यान दे की आज कल आप को एक फ़ोन सकता हैं और उस फ़ोन पर बात करने के बाद आप को एक ११ डिजिट का नम्बर दिया जायेगा जो ०० से शुरू होता हैंवहाँ फ़ोन करने पर आप का संपर्क एक जनाधिकारी से कराया जाएगा जो आप को १५ लाख की लोटरी के विषय मे सूचित करेगा और आप से आप के घर या ऑफिस की जानकारी चाहेगावो आप से ०३० रुपए की मांग करेगा टैक्स के लिये इत्यादि

ये एक होअक्स कॉल हैंअगर आप इस कॉल पर बात करते हैं तो उसके बाद आप १२१ डायल करके एयर टेल को अवश्य सूचित करदे और उनसे service request number भी ले ले और इस नम्बर को तुरंत अपने फ़ोन से bar करने और dnd मे डालने की बात करे . ।

ये नम्बर माना जा रहा हैं की शायद पकिस्तान से हैं पर इसका सबूत अभी नहीं हैंहां आप के फ़ोन पर अनचाही कॉल ना आए इसके लिये आप एयर टेल से १२१ पर कह सकते हैं क्युकी ये मोबाइल सर्विस प्रोविडर की जिम्मेदारी होती हैं

ये पोस्ट जन साधारण की सूचना के लिये डाली हैं और आप से अनुरोध हैं की बात की सूचना आगे बढ़ाते जाए

13 comments:

  1. bahut achhi baat

    samay par chetaavni badi mahatvapoorna hoti hai

    dhnyavaad !

    ReplyDelete
  2. श्याद पकिस्तान नहीं, यकीनन पाकिस्‍तान है,हर मर्ज की दवा है पाकिस्‍तान, जो कुछ हम न समझ सकें उसका नाम भी है पाकिस्‍तान, हमारे प्रेरक इधर हैं तो हम पीछे कहां हम यह खबर अवध तक पहंचायेंगे अगर कभी गये तो,

    अवधिया चाचा
    जो कभी अवध न गया

    ReplyDelete
  3. television par, mail par, sms par...
    ab to har taraf se inaam hi inaam diya ja raha hai.

    achhi jaankari di aapne
    shukriya

    ReplyDelete
  4. ठीक बताया आपने ।

    ReplyDelete
  5. जानकारी देने हेतु बहुत धन्यवाद।

    ReplyDelete
  6. जानकारी के लिए धन्यवाद

    ReplyDelete
  7. thanks suman. i often receive such messages on my air tel number but haven't received any call yet.

    ReplyDelete
  8. सुमन जी बहुत बढ़िया.. आपने चेतावनी देकर ठीक किया. ऐसे फर्जी ऑफ़र मेल पर भी आते हैं.. इसलिए कृप्या अगर आपने किसी लॉटरी या ड्रॉ में हिस्सा ही न लिया हो, तो ऐसे फेर में न पड़ें...

    ReplyDelete
  9. ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★
    ब्लोग चर्चा मुन्नभाई की
    ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★

    ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥
    जी! सावधान रहेगे!
    धन्यवाद!
    महावीर बी. सेमलानी "भारती"
    ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥

    यह पढने के लिऎ यहा चटका लगाऎ
    भाई वो बोल रयेला है…अरे सत्यानाशी ताऊ..मैने तेरा क्या बिगाडा था

    हे प्रभु यह तेरापन्थ

    मुम्बई-टाईगर

    ReplyDelete
  10. आभार जानकारी का!

    ReplyDelete
  11. बहुत खूब
    बहुत -२ आभार

    ReplyDelete
  12. धन्यवाद इस जानकारी के लिये।

    ReplyDelete
  13. अच्छी खबर- सचेत करने के लिए धन्यवाद्.

    ReplyDelete

copyright

All post are covered under copy right law . Any one who wants to use the content has to take permission of the author before reproducing the post in full or part in blog medium or print medium .Indian Copyright Rules

Popular Posts